अपराध

फर्जी भूस्वामी बन बेच दी दूसरे की बेशकीमती सम्पत्ति, मामला उजागर होने पर रजिस्ट्रार समेत 12 के खिलाफ मुकदमा, जाने कैसे हुआ फर्जीवाड़ा


महराजगंज टाइम्स ब्यूरो:- 
अगर आप भू स्वामी हैं तो आपके लिए यह खबरदार करने वाली खबर है। समय समय पर राजस्व रिकार्ड की जांच पड़ताल करते रहिए। वरना आप परेशानी में पड़ सकते हैं। इसी तरह का ताजा मामला निचलौल तहसील क्षेत्र में सामने आया है। गोरखपुर में रहने वाले एक शख्स की निचलौल में डेढ़ एकड़ पुस्तैनी जमीन है। निचलौल आना जाना कम रहता था। इसी का फायदा उठा कर जालसाजों ने रजिस्ट्री विभाग की मिलीभगत से गोरखपुर के शख्स की जगह स्वयं खड़ा होकर फर्जी ढंग से करोड़ों की जमीन को दूसरे के नाम बैनामा करा लिया। फर्जी गवाह भी खड़ा किया। मामला उजागर होने के बाद निचलौल तहसील के रजिस्ट्री ऑफिस के उप निबंधक, लिपिक, दस्तावेज लिखने वाले वकील, गवाह समेत 12 आरोपितों के खिलाफ निचलौल थाना में मुकदमा दर्ज हुआ है। इससे खलबली मच गई है। पुलिस आरोपितों की गिरफ्तारी के प्रयास में जुट गई है। निचलौल उपनिबंधक व लिपिक कार्यालय छोड़ फरार हैं।
जाने कैसे हुआ फर्जी दस्तावेज तैयार, कौन है मास्टरमाइंड

गोरखपुर सदर कोतवाली थाना क्षेत्र अलीनगर निवासी अखिलेश द्विवेदी व राजेश द्विवेदी ने निचलौल थाने में तहरीर देकर बताया कि निचलौल कस्बे में ठूठीबारी मार्ग पर उनकी करीब डेढ़ एकड़ पुस्तैनी भूमि है। पिछले दिनों निचलौल में भूमि की देखभाल करने के दौरान स्थानीय लोगों से पता चला कि संबंधित भूमि पर कुछ लोग आए थे और उसे अपनी भूमि बताकर प्लाटिंग की बात कर रहे थे। यह जानकारी मिलने पर अखिलेश द्विवेदी व राजेश द्विवेदी का माथा ठनक गया। क्योंकि उनके मुताबिक उनके या उनके परिवार के किसी सदस्य द्वारा भूमि का न तो एग्रीमेंट किया गया है, और न ही बैनामा। तहसील व रजिस्ट्री दफ्तर में पहुंच छानबीन शुरू किया इस दौरान जो जानकारी सामने आई उसे देख अखिलेश द्विवेदी व राजेश द्विवेदी के पैरों तले जमीन खिसक गई।
अभिलेख देखने पर पता चला कि संबंधित भूमि में 1/355 एडब्ल्यूएस आंबेडकरपुरम कल्याणपुर, कानपुर आउटर निवासी आदित्य पांडेय व 837 सी, 10बोरिंग न्यू कालोनी, लच्छीपुर गोरखपुर निवासी प्रदीप चंद्र त्रिपाठी ने 15 डिस्मिल भूमि का 65 लाख रुपये में बैनामा करा लिया है। उन्होंने पूरी भूमि का प्लाटिंग एग्रीमेंट भी बनवा लिया है। संबंधित बैनामा और एग्रीमेंट में भूस्वामियों के स्थान पर अज्ञात व्यक्तियों की तस्वीरें और फर्जी दस्तावेज लगे हुए हैं। इस मामले में तहसील से बैनामा की नकल निकालकर इसकी शिकायत उच्चाधिकारियों से करते हुए मुकदमा दर्ज कराया है। इस मामले में एसपी डॉ. कौस्तुभ ने बताया कि मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच की जा रही है। शीघ्र ही आरोपितों की गिरफ्तारी की जाएगी।

इनके खिलाफ दर्ज हुआ मुकदमा

उपनिबंधक निचलौल, उपनिबंधक कार्यालय के लिपिक, बैनामा लेखक व अधिवक्ता कृष्ण कुमार चौहान, भूमि लेने और एग्रीमेंट कराने वाले 1/355 एडब्ल्यूएस आंबेडकरपुरम कल्याणपुर, कानपुर आउटर निवासी आदित्य पांडेय और 837सी, 10बोरिंग न्यू कालोनी, लच्छीपुर गोरखपुर निवासी प्रदीप चंद्र त्रिपाठी, एग्रीमेंट में गवाह बने महराजगंज सदर कोतवाली के दरौली गांव निवासी विजय शर्मा, नगर पालिका के राजीवनगर निवासी राजू कुमार, ठूठीबारी थाना क्षेत्र के गड़ौरा निवासी दिनेश विश्वकर्मा, लोहरौली निवासी धीरेंद्र कुमार पांडेय और तीन अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ है। भूस्वामी अखिलेश व राजेश द्विवेदी ने बताया कि हाईकोर्ट के स्टे के बाद भी उनकी सीलिंग की भूमि में भी कुछ लोगों ने तहसील के कर्मचारियों से मिलकर हेराफेरी की है।

Most Popular