Health

ब्रेकिंग न्यूज़ : स्वास्थ्य केंद्र पर ग्रामीणों का धरना प्रदर्शन... 6 सितंबर से मेडिसीन स्टोर की चाभी लेकर लापता है फार्मासिस्ट, सीएमओ बोलीं तोड़ दो ताला

 

महराजगंज टाइम्स ब्यूरो : सिसवा क्षेत्र के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बंदी पर रविवार को ग्रामीणों द्वारा सुबह से धरना प्रदर्शन किया जा रहा है। आरोप है कि एक फार्मासिस्ट मेडिसीन स्टोर का चाभी लेकर 6 सितंबर से लापता हो गया है। ग्रामीणों का कहना है कि जब तक स्वास्थ्य विभाग इसका संज्ञान नही लेता तब तक धरने पर बैठे रहेंगे। 

सिसवा क्षेत्र के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बंदी पर रविवार को ग्रामीणों ने फार्मासिस्ट के कार्यप्रणाली के विरुद्ध धरने पर बैठ गए। स्थानीय ग्रामीण राजनविश्वकर्मा, मुन्ना यादव, राजकुमार चौहान, राहुल, द्वारिका, अमरजीत, सुर्पमान, संतोष, शत्रुध्न, गिरिजेश, सुरेश, श्यामसुंदर, रविन्द्र ने बताया कि 6 सितंबर को यहां स्वास्थ्य विभाग ने एक नए फार्मासिस्ट की तैनाती कर दी। सिसवा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र से यहां एक नए फार्मासिस्ट की तैनाती हुई।
जिसके विरुद्ध आज ग्रामीण धरना प्रदर्शन कर रहे हैं वह फार्मासिस्ट सिसवा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर तैनात कर दिया गया। लेकिन उसी दिन से फार्मासिस्ट दवा स्टोर का चाभी लेकर लापता ही गया। जिससे ग्रामीणों को इलाज कराने में भारी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा। 
प्रभारी डॉ. से सीएमओ बोलीं तोड़ दो स्टोर रूम का ताला

इस सम्बंध में जब प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बंदी के प्रभारी डॉ. से बात की गई तो उन्होंने बताया कि मुकेश गुप्ता नाम का फार्मासिस्ट का ट्रांसफर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सिसवा में 6 सितंबर को कर दिया गया है। उसी दिन से फार्मासिस्ट मुकेश गुप्ता मेडिसिन स्टोर का चाभी लेकर चले गए। जिससे इलाज में दवा को मरीज को वितरित नही किया जा रहा। जो जरूरी दवाएं हैं उनको सिसवा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र से मंगवाकर दिया जा रहा। इस मामले में सिसवा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र प्रभारी डॉ. राकेश ने बताया कि मामले को उच्चाधिकारियों के संज्ञान में डाल दिया गया है। वहीं प्रभारी डॉ. पीके यादव ने आगे बताया कि सीएमओ डॉ. नीना वर्मा से बात की गई है तो उन्होंने बताया कि मेडिसिन स्टोर का ताला तोड़ दीजिये। वहीं आज रविवार को मेडिसिन स्टोर बन्द होने के कारण सीएम योगी के मुख्य योजना मुख्यमंत्री स्वास्थ्य मेले का भी आयोजन सुचारू रूप से नही किया जा सका।

Comments (0)

Leave a Comment

Related News

Most Popular