Maharajganj

एनएच 730 पर राहगीरों के लिए चार अंधे मोड बने काल,सिटीजन फोरम की शिकायत पर डीएम बोले टोल प्लाजा और डायवर्जन के मानक की होगी जांच

 

महाराजगंज टाइम्स ब्यूरो:-  राष्ट्रीय राजमार्ग 730 पर सेमरा राजा स्थित टोल प्लाजा की समस्याओं को दूर कराने और समन्वय बैठक की मांग को लेकर सिटीजन फोरम के अध्यक्ष डॉक्टर आरके मिश्र के नेतृत्व में एक प्रतिनिधिमंडल ने  शुक्रवार को जिलाधिकारी से मुलाकात की। फोरम ने जिलाधिकारी को तीसरी बार सात सूत्रीय मांग पत्र सौंपते हुए कहा कि कार्यदायी संस्था द्वारा डायवर्जन  पुल/सड़क बनाकर ही छोड़ दिया गया, उसे सीधा व स्थाई रूप से अभी तक नहीं बनाया गया। फोरम के लोगों ने जिलाधिकारी को बताया कि मुख्य चौराहे पर अधूरा निर्माण कार्य किया गया है आज भी माननीय उच्च न्यायालय में रिट संख्या 8555/ 2020 और 8561/ 2020  में ध्वस्तीकरण पर रोक लगाई गई है। डायवर्जन पुल और मार्ग निर्माण किए बिना भारत सरकार को प्री कंप्लीशन रिपोर्ट भेज दिया गया। एनएचएआई के द्वारा जारी एक टोल प्लाजा से दूसरे टोल प्लाजा की दूरी कम से कम 60 किलोमीटर होनी चाहिए जबकि छितही बुजुर्ग टोल प्लाजा से सेमरा की दूरी मात्र 47 किलोमीटर हैं l मार्ग पर  2 दर्जन से अधिक दुर्घटनाएं और लोगों की हुई मौतों की चर्चा भी की गयी। जिलाधिकारी ने प्रतिनिधिमंडल को बताया कि परतावल महाराजगंज में सड़क की जांच एवं डायवर्जन के मुद्दे पर एन एच ए आई के चेयरमैन को पत्र लिखा है इस पर जांच कराई जाएगी और सड़क और डायवर्जन के पुल को सीधा किया जाएगाl उन्होंने 22 सितंबर को 3:00 बजे सिटीजन फोरम एनएचएआई, पीडब्ल्यूडी की संयुक्त समन्वय बैठक निर्धारित की l सिटीजन फोरम ने जिलाधिकारी को सौंपे पर गए पत्र में इस विषय को गंभीरता से लिए जाने की भी बात कही हैl प्रतिनिधिमंडल में महासचिव विमल कुमार पांडे, मीडिया प्रभारी डॉ शांतिशरण मिश्र, कोषाध्यक्ष दिलीप शुक्ला सदस्य रामप्रकाश गुप्त  शामिल रहे।

Comments (0)

Leave a Comment

Related News

Most Popular