अपराध

उपजिलाधिकारी व नायब तहसीलदार के संयुक्त छापेमारी में अवैध खनन में संलिप्त 4 के विरुद्ध दर्ज हुआ एफआईआर , खनन माफियाओं मे हड़कम्प

 
महराजगंज टाइम्स ब्यूरो : जनपद के निचलौल थाना में ऊपरी नारायणी शाखा नदी से सिल्ट के अवैध खनन के मामले में 04 लोगों के विरुद्ध सिंचाई विभाग द्वारा एफआईआर दर्ज कराई गई है। ऊपरी नारायणी से अवैध खनन की मिल रही शिकायतों को संज्ञान में लेते हुए उपजिलाधिकारी निचलौल सत्यप्रकाश मिश्रा द्वारा नायब तहसीलदार नवीन निश्चल त्रिपाठी के साथ सुबह 6:30 बजे औचक छापेमारी की गई। छापे के दौरान मनोज पुत्र राधेश्याम मौके से भागने के प्रयास में ट्रैक्टर ट्राली के साथ पकड़ा गया। ट्राली में अवैध सिल्ट भी बरामद की गई। उपजिलाधिकारी ने बताया कि अभियुक्त को गिरफ्तार कर पुलिस के हवाले कर दिया गया और सिंचाई विभाग को आगे की कार्यवाही हेतु अवगत करा दिया गया।
पहले भी अवैध खनन में दर्ज हुआ है मुकदमा
सहायक अभियान सिंचाई खंड प्रथम जितेंद्र कुमार मल्ल ने बताया कि अभियुक्तों द्वारा ऊपरी नारायणी शाखा के किमी 0.00 से किमी 2.70 के मध्य ग्राम सेमरहना, अरदौना और बूढ़ाडीह के बीच नहर के अंदर बेड से सत्येंद्र यादव और प्रद्युम्न धर दूबे द्वारा आए दिन सिल्ट का अवैध खनन किया जा रहा था, जिसकी शिकायत मिलने पर तहसील प्रशासन के सहयोग से छापे की कार्यवाही की गई। छापे के दौरान गिरफ्तार ड्राइवर मनोज के बयान के आधार पर उसके सहित सत्येंद्र यादव पुत्र रामज्ञा, प्रद्युम्न धर दूबे, सुरेंद्र कुशवाहा के विरोध खान एवं खनिज अधि. की धारा 04 व धारा 21 और सार्वजनिक संपत्ति नुकसान निवारण अधि. की धारा 03 व धारा 05 के तहत एफआईआर निचलौल थाने में जिलेदार रामप्रीत द्वारा पंजीकृत करवाया गया है। उन्होंने बताया कि सत्येंद्र और प्रद्युम्न के विरुद्ध पूर्व में भी अवैध खनन के सिलसिले में मुकदमा दर्ज कराया जा चुका है।

यह भी पढ़ें : बड़ी खबर : छोटी गंडक नदी में मिला नवजात शिशु की लाश, इलाके में मचा हड़कंप, पुल पर पसरा दिखा खून का निशान, जांच में जुटी पुलिस

Comments (0)

Leave a Comment

Related News