Education

एसआरजी की संवेदहीनता से दिव्यांग शिक्षक मर्माहत,बीएसए को शिकायत पत्र सौंप कार्यवाही की उठाई मांग


महराजगंज टाइम्स ब्यूरो :- सदर क्षेत्र के प्राथमिक विद्यालय करमहा द्वितीय में तैनात दिव्यांग शिक्षक सुनील वर्मा ने एस आर जी लवकुश वर्मा पर अमर्यादित शब्दो का प्रयोग कर उन्हे मानसिक दिव्यांग कह करके अपमानित करने का आरोप लगाया है। एसआरजी द्वारा मोबाइल पर अमानवीय व्यवहार पर मर्माहत शिक्षक ने जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को शिकायत पत्र सौंप कठोर कार्यवाही की मांग उठाई है।शिकायत पत्र में शिक्षक ने एस आरजी पर आरोप लगाया है कि निपुण परीक्षा में दिव्यांग छात्रो से सम्बंधित जानकारी लेने पर एस आरजी लवकुश वर्मा आक्रोशित हो गये और फोन कर आपत्तिजनक शब्दो का प्रयोग किया।दिव्यांग छात्रो को पूरी तरह निष्क्रिय बोल धमकी दिया गया तथा निपुण भारत सदर ग्रुप से रिमूव करते हुए अपमानित किया ।दिव्यांग शिक्षक ने पत्र में लिखा है कि एस आर जी लवकुश वर्मा वैचारिक हिंसा कर रहे तथा दिव्यांग छात्रो व दृष्टि दिव्यांग सहायक अध्यापक की प्रताड़ना करके उन्होंने भारत सरकार के दिव्यांग जन अधिनियम2016 के तहत दंडनीय अपराध किया है जो गम्भीर श्रेणी का अपराध है।शिकायतकर्ता शिक्षक ने दिव्यांग छात्रो व दृष्टि दिव्यांग शिक्षक के प्रति घृणित सोच वाले पर्यवेक्षक पर कड़ी कार्यवाही की मांग की है।पीड़ित शिक्षक ने शिकायत पत्र की प्रतिलिपि उ.प्र.प्राथमिक शिक्षक संघ,पूर्व माध्यमिक शिक्षक संघ को भेज घटना से अवगत कराते हुए न्याय दिलाने की मांग उठाई है।

यह भी पढ़ें : गोंड का फर्जी जाति प्रमाण पत्र लगाकर अध्यापक बने शख्स की गई नौकरी, बीएसए ने किया बर्खास्त